Breaking news

डाॅक्टर के घर से ‌‌‌‌‌4 लाख कैश, 17 तोले सोना, 50 तोले चांदी चोरी, सबूत मिटाने को जला दिया घर..



 

    • घर के पिछले हिस्से से छत पर पहुंचे चोर, ऊपरी मंजिल पर रहता है परिवार, नीचे है क्लीनिक

Mera Bharat News

Jul 29, 2019, 02:57 PM IST

मोगा. मोगा जिले के धर्मकोट में बीएएमएस डॉक्टर शनिवार शाम अपने परिवार के साथ मोगा गए थे। वहां गोल्ड कोस्ट में बीएएमएस डॉक्टरों की बैठक थी। इस दौरान उनके घर में चोर घुस गए और बेडरूम का ताला तोड़कर 4 लाख रुपए, 17 तोले सोना, 50 तोले चांदी के जेवर चुरा ले गए। इतना सब कुछ लूटने के बाद चोरी का सबूत मिटाने के लिए चोरों ने घर को ही आग लगा दी।

इससे घर के ऊपरी हिस्से में दीवारों के अलावा सब कुछ जल कर राख हो चुका था। करीब पौने तीन घंटे के बाद डॉक्टर और उनका परिवार घर पहुंचा तो घटना का पता चला। इसके बाद उन्होंने पुलिस को शिकायत दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने डाॅक्टर के बयान पर अज्ञात चोरों के खिलाफ केस दर्ज किया है।

थाना धर्मकोट के एएसआई सुखदेव सिंह ने बताया कि कस्बे के मेन बाजार शिव चौक निवासी डॉक्टर अनिल धमीजा ने पुलिस को शिकायत दी कि वह बीएएमएस डॉक्टर है। उसने घर के निचले हिस्से में क्लीनिक खोल रखी है, जबकि ऊपरी हिस्से में वह परिवार समेत रहते हैं। शनिवार रात को उनके डॉक्टरों की बैठक मोगा में रखी गई थी। ऐसे में वह घर व क्लीनिक को ताला लगाकर परिवार समेत रात को 8 बजे मोगा के लिए रवाना हुए थे।

पौने 11 बजे घर पहुंचे तो उनके द्वारा ताले खोलकर क्लीनिक का शटर उठाया तो सीढ़ियाें से होते हुए ऊपर पहुंचे तो देखा कि दरवाजा अंदर से बंद है। काफी कोशिश के बाद जब दरवाजा नहीं खुला तो पड़ोसियों की सहायता से उनके द्वारा दरवाजा खोला गया। इसके घर के ऊपरी हिस्से में धुंए के अलावा कुछ भी नहीं था।

घर पहुंचे तो आग सुलग रही थी, पानी डालकर बुझाई

घर पहुंचे तब तक आग धंधक रही थी, पानी डालकर उसे बुझाया गया। उन्होंने बताया कि बेडरूम का दरवाजा खुला था अाैर अंदर तोड़ी गई अलमारी भी खुली पड़ी थी। चोर घर के पिछले हिस्से से छत पर आए और पहले नकदी और ज्वेलरी निकाली गई फिर चोरी का सबूत हाथ न लगे, इसलिए आग लगा दी गई। इससे घर का हर एक सामान जलकर राख हो गया। अनुमान के मुताबिक 15 से 20 लाख रुपए के सामान के साथ-साथ जरूरी दस्तावेज भी जल गए।

पुलिस का कहना है कि आरोपियों की शिनाख्त के प्रयास किए जा रहे हैं। जल्द आरोपियों को अरेस्ट कर लिया जाएगा। घटना को सिर्फ पौने 3 घंटे के अंदर दी गई है। इस बात तो भी ध्यान में रखकर जांच की जा रही है। चोर डॉक्टर के परिवार के जानकार भी हो सकते हैं। जांच चल रही है।

Source link


Translate »