Breaking news

जालंधर : सावधान!, श्रीमन हॉस्पिटल में मिली कोरोना मरीज, सम्पर्क में आए डॉक्टर व स्टाफ की नही हुई अभी तक स्क्रीनिंग, पढ़ें



जालंधर : सावधान!, श्रीमन हॉस्पिटल में मिली कोरोना मरीज, सम्पर्क में आए डॉक्टर व स्टाफ की नही हुई अभी तक स्क्रीनिंग, पढ़ें

बयूरो : पंजाब के जालंधर से बड़ी खबर सामने आ रही है जहां फगवाड़ा की 65 वर्षीय बुजुर्ग जालंधर के निजी ‘श्रीमन हॉस्पिटल’ में इलाज करवाने पहुंची महिला मरीज की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार सर्जरी करवाने फगवाड़ा की अमरदीप कौर निवासी सुखचैन नगर, फगवाड़ा श्रीमन हॉस्पिटल पहुंची जहां उसका सैंपल लिया गया और रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई। जिसके उपरांत काफी घण्टो तक निजी हॉस्पिटल स्टाफ ने सिविल प्रशासन को सूचित ही नही किया। बात हाथ से निकलती देख जब सूचित किया गया तो जालंधर से सूचना पा फगवाड़ा की सिविल सर्जन के निर्देशों पर मरीज कपूरथला के सिविल हॉस्पिटल ले जाया गया। बड़ा सवाल यह यह उठता है कि जब जालंधर की सिविल सर्जन से उक्त निजी हॉस्पिटल स्टाफ की स्क्रीनिंग बारे सवाल किया गया तो उन्हीने कोरोना मरीज की ही जानकारी होने से इनकार कर दिया जबकि कोरोना मरीज की पुष्टि जालंधर के SMO TP सिंह व फगवाड़ा के सिविल सर्जन ने की है।

उल्लेखनीय है कि कुक्ज घण्टे बीत जाने पश्चात भी जहां महिला मरीज कपूरथला पहुंच चुकी है वही निजी हॉस्पिटल स्टाफ व डॉक्टर सैंकड़ो लोगो की जान को खतरे में डालते हुए अभी तक सभी को दरख रहे है और उनकी स्क्रीनिंग का कोई कार्य नही किया जा रहा है। इस बारे फगवाड़ा की सिविल सर्जन ने कहा कि मरीज तो हम ले गए परन्तु हॉस्पिटल स्टाफ व डॉक्टरों की स्क्रीनिंग जालंधर सिविल प्रशासन करेगा जबकि जालंधर सिविल हॉस्पिटल में किसी के कान पर जू तक नही सरक रही। क्या सैंकड़ो की जान खतरे में डाल प्रशासन कुंभकर्णी नींद से जागेगा? इस पर एक बड़ा सवालिया निशान लगा हुआ है


Translate »