Breaking news

तिहाड़ जेल में कोरोना की नो एंट्री, आइसोलेशन सेल बनाया, विदेशी कैदियों की हो रही स्क्रीनिंग



तिहाड़ जेल में कोरोना की नो एंट्री, आइसोलेशन सेल बनाया, विदेशी कैदियों की हो रही स्क्रीनिंग

कोरोना वायरस को लेकर तिहाड़ प्रशासन ने जेल में सतर्कता बढ़ा दी है। जेल में एक अलग से आइसोलेशन सेेल बनाया गया है। जेल में आने वाले नए कैदियों की स्क्रीनिंग कर उन्हें तीन दिन तक अन्य कैदियों से अलग रखा जाता है। तीन दिन तक रखने के बाद उन्हें वार्ड में पुराने कैदियों के पास भेज दिया जाता है। विदेशी कैदियों की विशेष जांच की जा रही है। सूत्रों का कहना है कि जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बावजूद भारतीय कैदी विदेशी कैदियों से दूरी बना रहे हैं। हालांकि जेल प्रशासन कैदियों को कोरोना से बचने के लिए जागरूक भी कर रहा है। तिहाड़ जेल महानिदेशक संदीप गोयल का कहना है कि अभी तक किसी भी कैदी में कोरोना के लक्षण सामने नहीं आए हैं, लेकिन जेल प्रशासन ने एक आइसोलेशन सेल बना दिया है। जेल में आने वाले नए कैदियों की जांच के बाद तीन दिन तक अन्य कैदियों से अलग रखा जा रहा है। विदेशी कैदी भी जेल आ रहे हैं जिनकी जांच करवाने के बाद उन्हें अलग वार्ड में रखा जा रहा है। कैदियों को कोरोना वायरस के प्रति जागरूक किया जा रहा है और उन्हें संक्रमण से बचने के उपायों के बारे में जानकारी दी जा रही है। जेल अधिकारियों के मुताबिक, कैदियों को जरूरत महसूस होने पर उन्हें मास्क और सैनिटाइजर भी उपलब्ध कराया जा रहा है। जेल में आने वाले सभी कैदियों की स्वास्थ्य जांच की जाती है। अगर किसी कैदी में कोरोना के लक्षण पाए जाएंगे तभी उन्हें आइसोलेशन सेल में रखा जाएगा।


Translate »