Breaking news

मौत पुलिस कस्टडी में आरोपी की, 7/51 धारा अधीन लिया था हिरासत में, परिजनों द्वारा गुहार लगाने पर भी रात को हॉस्पिटल नही ले कर गए गैरजिम्मेदार व निर्दय मुलाजिम, पढ़ें



(Exclusive)जालंधर : मौत पुलिस कस्टडी में आरोपी की, 7/51 धारा अधीन लिया था हिरासत में, परिजनों द्वारा गुहार लगाने पर भी रात को हॉस्पिटल नही ले कर गए गैरजिम्मेदार व निर्दय मुलाजिम, पढ़ें

जालंधर बयूरो : देहात पुलिस, जालंधर के अधीन आते मकसूदां थाने की मंड चौकी में 7/51 धारा अधीन दलजीत सिंह को हिरासत में लिया गया था। थाने के मुंशी ने मंड के सरपंच को बताया कि वह रात को हिरासत में लिए गए आरोपी को मकसूदां थाने छोड़ आए थे। मकसूदां थाने में देर रात पुलिस कस्टडी में एक आरोपी की मृत्यु हो गई जिसका मंगलवार को सिविल हॉस्पिटल में पोस्ट-मार्टम भी करवाया गया। जानकारी अनुसार धारा 7/51 अधीन हिरासत में लिए गए दलजीत सिंह पुत्र स्व. कुलवंत सिंह उम्र करीब 36 वर्ष निवासी वरियाना की देर रात हालात बिगड़ गए जिसके चलते परिजनों ने कई बार गैरजिम्मेदार व निर्दय मुल्जिमो से हॉस्पिटल ले जाने की गुहार लगाई परन्तु वह नही ले गए और अंततः दलजीत की पुलिस कस्टडी में मृत्यु हो गई। जब सिविल हॉस्पिटल में दलजीत का पोस्ट मार्टम करवाया गया तो मौत का कारण हार्ट अटैक निकला। इसके अतिरिक्त सारी रिपोर्ट कुक्ज दिनों में आएगी।

इस बारे जब मंड थाना के मुंशी से बात की तो उन्होंने कहा कि वह मकसूदां थाने में हिरासत में लिए गए आरोपी को छोड़ आये थे जबकि थाना मकसूदां थाने के मुंशी ने मृत्यु की पुष्टि करते हुए कहा कि मौत तो हुई है परन्तु बात टालते हुए कहा थाने से बाहर हुई है। जब उनसे पूछा गया कि हिरासत वाला आदमी थाने से बाहर कैसे चला गया तो उन्होंने कहा सेक्रेड हार्ट हॉस्पिटल में दौरान चेक-उप हुई। जब उनसे पूछा गया कि सेक्रेड हार्ट में पुलिस कैसे ले गई एक हिरासत में लिए गए आरोपी को उन्होंने फ़ोन काट दिया। इस बारे जब DSP सुरिंदर पाल सिंह धोगड़ी ने बताया कि उक्त आरोपी के खिलाफ पुलिस को शिकायत मिली थी जिस पर कार्यवाही करते हुए आरोपी के ऊपर 7/51 धारा के अधीन मामला दर्ज कर लिया था। आरोपी की मृत्यु थाने से हॉस्पिटल ले जाते हुए सफर के दौरान हुई।


Translate »