Breaking news

मौजूदा सरपंच के पति के कत्ल की साजिश करते बिंदु गैंग के तीन मेंबर गिरफ्तार..



आज एक प्रेस वार्ता के दौरान जानकारी देते हुए श्री राजवीर सिंह बोपाराय, पी पी एस, पुलिस कप्तान (इन्वेस्टिगेशन), जालंधर (देहात) ने बताया है कि मुख्य थाना लांबडा के एस.आई. पुष्प बाली ने एक कत्ल की साजिश में शामिल लोगों को गिरफ़्तार किया है|

एस.आई. पुष्प बाली को इत्तला मिली के हरविंदर सिंह उर्फ़ बिंदु पुत्र लेट सोहन सिंह वासी पिंड अलीचक्क थाना लांबडा अमरीक सिंह उर्फ़ शाह पुत्र केवल सिंह वासी पिंड अलीचक्क थाना लांबडा, दलवीर सिंह उर्फ देवा पुत्र गुलबीर सिंह वासी चननपुर थाना सदर जमशेर जो आज कल 89/C, तिलक नगर थाना भार्गव कैंप में रह रहा है, लखबीर सिंह उर्फ लखु पुत्र अवतार सिंह वासी पिंड गोविंदपुर थाना लांबड़ा, हरविंदर सिंह उर्फ राहुल पुत्र महेंद्र सिंह वासी पिंड निज्जरां थाना लांबडा, से हैं|

इन सभी ने आपसी सलाह से मोता सिंह पुत्र बग्गा सिंह वासी अलीचक्क थाना जो के लांबड़ा ने गांव अलीचक्क की मौजूदा सरपंच का पति है, का कत्ल करना चाहते हैं| श्री बोपाराय ने बताया कि इनके पास नाजायज़ पिस्तौल भी है जो किसी वक्त भी मोता सिंह को घेर के पिस्तौल के साथ गोलियां मार के कत्ल कर सकते हैं| इस गैंग का मास्टरमाइंड हरविंदर सिंह उर्फ बिंदु है|

इन लोगों की आपसी रंजिश की वजह यह है कि सरपंची के चुनावों में हरविंदर सिंह उर्फ बिंदु की माता और मोता सिंह की पत्नी एक दूसरे के विरुद्ध खड़े थे| जिसमें बिंदु की मां हार गई और मोता सिंह की पत्नी जीत गई| जिस कारण हरविंदर सिंह उर्फ बिंदु मोता सिंह के साथ रंजिश रखने लगा| उसके बाद यह दोनों अलीचक्क में सलाना छिन्ज की कमेटी का प्रधान बनना चाहते थे| इस बात को लेकर भी दोनों में आपस में झगड़ा हुआ| इसी रंजिश के चलते हरमिंदर सिंह उर्फ बिंदु ने अपने साथियों के साथ मिलकर मोता सिंह को मारने की साजिश बनाई|

इस साज़िश के तहत उक्त दोषियों के खिलाफ मुकदमा नंबर 59 दिनांक 22.06.19 जुर्म 115, 120-B IPC 25 आर्म्स एक्ट के तहत थाना लांबड़ा में रजिस्टर करके तफ्तीश की गई| तफ्तीश के दौरान गैंग के मास्टरमाइंड हरविंदर सिंह उर्फ बिंदु के घर रेड की गई जहां गैंग के मेंबरों को काबू किया गया| इस दौरान बिंदु के कब्जे में से एक रिवाल्वर 315 बोर समेत 4 रौंद जिंदा, अमरीक सिंह उर्फ शाह के कब्जे में से एक माउज़र 7.65 समेत 4 रौंद जिंदा, दलवीर सिंह और देवा के कब्जे से एक चाकू बरामद करके दोषियों को मुकदमे के तहत गिरफ्तार किया गया|

इस गैंग के दो मेंबर लखबीर सिंह उर्फ लघु और हरविंदर सिंह उर्फ राहुल मौके से फरार हो गए जिनकी गिरफ्तारी के लिए खुफिया सोर्सेस लगाए गए हैं और रेड भी की जा रहीं है| दोषियों को अदालत में पेश कर पुलिस रिमांड हासिल किया जाएगा ताकि उक्त दोषियों के द्वारा की गई और वारदातों के बारे में गहराई से पूछताछ की जा सके और पता लगाया जा सके कि यह हथियार उन्होंने किस से, कब और कहां खरीदे थे|


Translate »