Breaking news

In lieu of running a gambling business, the head constable was asking for 15 thousand rupees, arrested taking bribe | जुआ कारोबार चलवाने की एवज में हेडकांस्टेबल मांग रहा था 15 हजार रुपए की बंधी, रिश्वत लेते गिरफ्तार



 

  • उदयपुर में एसीबी ने अंबामाता थाने में पदस्थापित है घूसखोर हेडकांस्टेबल
  • पहले जुआ एक्ट के केस में परिवादी को गिरफ्तार किया, फिर मांगी रिश्वत

उदयपुर. शहर में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने गुरुवार को एक पुलिस हेडकांस्टेबल को 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया। मामले में आरोपी पुलिसकर्मी ने पहले परिवादी को जुआ खिलवाने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद जमानत मिलने पर उससे मासिक बंधी मांग रहा था। रिश्वत की रकम उससे बरामद कर ली गई है। इसके दो दिन पहले ही एसीबी ने उदयपुर में ही खेरवाड़ा थानाप्रभारी सबइंस्पेक्टर भंवरलाल विश्नोई को ढाई लाख रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया था।

प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया कि रिश्वत की 15 हजार रुपए की रकम के साथ हेडकांस्टेबल ने कम्यूटर के लिए भी रकम मांगी थी। एसीबी ट्रेप की यह कार्रवाई एएसपी सुधीर जोशी के निर्देशन में पुलिस इंस्पेक्टर हरीशचंद्र सिंह के नेतृत्व में टीम ने की। एसीबी के मुताबिक गिरफ्तार आरोपी महेंद्र सिंह निवासी गांव नानसा, तहसील रायपुर, जिला भीलवाड़ा है। वह उदयपुर शहर के अंबामाता थाने में पदस्थापित है।

इस संबंध में कृष्णपुरा, उदयपुर निवासी नरेंद्र शर्मा ने 13 फरवरी को एसीबी में शिकायत दर्ज करवाई थी। जिसमें बताया कि आरोपी महेंद्र सिंह ने उसे जुएं के मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद जुएं की मासिक बंधी के रुप में 15 हजार रुपए और कम्यूटर के लिए और रकम की मांग करने लगा। तब एसीबी ने सत्यापन के बाद गुरुवार को ट्रेप रचा। परिवादी रिश्वत की रकम लेकर थाने पहुंचा। जहां रिश्वत लेते ही ईशारा मिलने पर एसीबी ने महेंद्र सिंह को गिरफ्तार कर लिया।

Source link


Translate »