Breaking news

returning from marriage ceremony judge39s car collides with a pillar dies | शादी समाराेह से लौट रहे जज की कार खंभे से टकराई, मौत



 

बिलखते हुए मां बोली- जज पुत नूं आखिरी वार गल ला लैण दो… बेटी बोली- मां रो ना, मैं तुहाडा पुत हांप|ी राधिका को संभालते परिजन।

दादा का सपना पूरा करने वाले साहिल थे प|ी के रोल मॉडल

धूरी/चंडीगढ़ | चंडीगढ़ में अलसुबह 3 बजे हुए सड़क हादसे में ज्यूडिशियल मैजिस्ट्रेट (जीएमआईसी) साहिल सिंगला की मौत हो गई । चंडीगढ़ में शादी समारोह से लौट रहे साहिल की तेज रफ्तार कार सेक्टर 22 में खंभे से टकरा गई। हादसे के वक्त साहिल की प|ी राधिका, एक अन्य महिला जज प्रभजोत कौर निवासी पलासौर (तरनतारन) के साथ दूसरी कार में सवार थीं। हादसे में तरनतारन के एडवोकेट पाहुलप्रीत सिंह जख्मी हो गए। दोनों को अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने साहिल को मृत घोषित कर दिया। उनका शव पैतृक नगर धूरी में जब शाम 4 बजे पहुंचा तो बिलखते हुए मां बार-बार कह रही थी जज पुत नूं आखिरी वार गल ला लैण दो। मां की हालत देख बेटी नेहा बोली मां रो ना, मैं तुहाडा पुत हां…। परिवार की हालत देख वहां मौजूद हर किसी की आंखों में आंसू थे। साहिल के पिता उद्योगपति हैं।

अपने दादा का सपना पूरा करने वाले साहिल 2014 में पीयू से वकालत कर 2015 में जज बने। वह प|ी राधिका के रोल मॉडल भी थे। उनका असर ऐसा था कि 2017 में शादी के एक वर्ष बाद ही दिसंबर 2018 में राधिका ने भी पीसीएस की परीक्षा पास कर ली थी। मौजूदा समय में राधिका की चंडीगढ़ में ट्रेनिंग चल रही थी। अपनी आंखों के सामने साहिल की दर्दनाक रुखसत से राधिका बेसुध थी। उन्हें कुछ होश नहीं था। परिजन ही सहारा देकर उन्हें संस्कार घर तक लेकर गए।

साहिल सिंगला

Source link


Translate »